Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

जब भी जरूरत हो बेझिझक फोन करें, प्रियंका ने कफील की बीवी से फोन पर जाना हाल

यूपी की मथुरा जेल से साढ़े 7 महीने बाद छूटे डॉ कफ़ील खान की पत्नी शबिस्ता से कांग्रेस महासचिव व यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी ने फ़ोन पर बात की और उनके परिवार का कुशल क्षेम पूछा। बात यूपी अल्पसंख्यस्क कांग्रेस के प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज़ आलम ने कराई।

कोर्ट के आदेश के बाद प्रियंका ने अपने ट्वीट में लिखा था, ‘आज इलाहाबाद हाई कोर्ट ने डॉ. कफील खान के ऊपर से रासुका हटाकर तत्काल उनकी रिहाई का आदेश दिया। आशा है कि यूपी सरकार डॉ. कफील खान को बिना विद्वेष के अविलंब रिहा करेगी। डॉ. कफील खान की रिहाई के प्रयास में लगे तमाम न्याय पसंद लोगों और यूपी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को मुबारकबाद।’

ग़ौरतलब है कि मथुरा जेल से छूटने के बाद डॉ कफ़ील का परिवार सुरक्षा की दृष्टि से कांग्रेस शासित राजस्थान के एक रेसॉर्ट में रह रहा है। कल कफ़ील ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रियंका गांधी और कांग्रेस के सहयोग के लिए धन्यवाद दिया था।

कफील खान को मथुरा जेल के गेट से लेकर जयपुर के रिजॉर्ट तक ले जाने वाले उत्तर प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के चेयरमैन शाहनवाज आलम ने प्रियंका गांधी से बात कराया है। शुक्रवार को सुबह साढ़े दस बजे महासचिव प्रियंका गांधी ने डॉ. कफील की पत्नी शबिस्ता खान से बात की। इस दौरान प्रियंका ने कफील की बुजुर्ग मां और उनके बच्चों की खैरियत जानी। प्रियंका ने उनको अपना निजी नम्बर भी दिया और कहा कि जब भी कोई जरूरत हो वो उन्हें बेझिझक फोन करें।

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।