Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

सैलरी नहीं मिलने से परेशान BSNL कर्मचारी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

केरल: घाटे में चल रही सरकारी टेलिकॉम कंपनी बीएसएनएल के एक कर्मचारी ने आत्महत्या कर ली है. मृतक का नाम रामकृष्णन है जो केरल के मल्लापुरम में बीएसएनएल के दफ्तर में स्वीपर का काम करता था. वह पिछले 20 से कंपनी से जुड़ा हुआ था और बताया जा रहा है कि 10 महीने से उसे सैलरी नहीं मिली थी. वह दफ्तर में पंखे से लटका मिला. वेतन भुगतान न होने का विरोध कर रहे कर्मचारी संघ ने आरोप लगाया है कि रामकृष्णन वित्तीय संकट से गुजर रहे थे.

बता दें कि इससे पहले सरकार ने घाटे में चल रही सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनियों बीएसएनएल और एमटीएनएल के लिए 68,751 करोड़ रुपये के पुनरुद्धार पैकेज को मंजूरी दी थी. इसमें एमटीएनएल का बीएसएनएल में विलय, कर्मचारियों के लिये स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) और 4 जी स्पेक्ट्रम आवंटन शामिल है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया था. दूरसंचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने पैकेज से जुड़ी जानकारियां साझा करते हुए कहा था कि बीएसएनएल और एमटीएनएल के विलय को मंजूरी दे दी गई है. विलय प्रक्रिया पूरी होने तक एमटीएनएल प्रमुख दूरसंचार कंपनी बीएसएनएल की अनुषंगी के रूप में काम करेगी.

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।