Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

बच्चे की पढ़ाई के लिए चाहिए था स्मार्टफोन, परिवार ने छह हजार रुपए में बेच दी गाय

बीजेपी शासित हिमाचल प्रदेश में एक गरीब परिवार को बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए एक स्मार्टफोन खरीदने को अपनी आय के एकमात्र स्रोत गाय को बेचना पड़ा। परिवार की आमदनी का जरिया रही गाय महज 6000 रुपये में बिकी। अनुसूचित जाति के कुलदीप कुमार को अपने बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए स्मार्टफोन खरीदना इतना जरूरी था कि उन्होंने इतनी कम कीमत पर अपनी गाय बेच दी।

हिमाचल के कांगड़ा जिले के ज्वालामुखी में रहने वाले कुलदीप कुमार ने कहा कि मार्च में बच्चों के स्कूल बंद हो गए थे, उसके बच्चे कक्षा 2 और कक्षा 4 में पढ़ते हैं और उन्हें स्मार्टफोन न होने की वजह से पढ़ाई में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। यह इस वजह से क्योंकि कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन घोषित कर दिया गया था। इस वजह से वह स्मार्टफोन खरीदने के दबाव में था जिससे उसके बच्चे ऑनलाइन क्लासेस को अटेंड कर सकें।

मार्च से लॉकडाउन के बाद से स्कूल बंद हैं। बच्चे घर पर ही हैं। उनको पढ़ने के लिए विद्यालय की तरफ से ऑनलाइन क्लासेज शुरू की गई जिसके बाद विद्यालय की तरफ से बच्चों को लेकर दबाव बनाया जाने लगा कि उन्हें स्मार्ट फोन के जरिए ऑनलाइन क्लासेज के लिए तैयार किया जाए। कुलदीप कुमार बताते हैं कि उनकी जेब में महज पांच सौ रुपए थे। वह ऐसे में स्मार्ट फोन कहां से खरीद पाते।

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।