Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

राम रहीम को सजा सुनाने वाले जज की सुरक्षा कड़ी , 60 जवान और बुलेटप्रूफ गाड़ी मिली

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सजा सुनाने वाले जज को सीएम मनोहर लाल खट्टर की बुलेट प्रूफ गाड़ी दी गई है। पंचकूला की स्पेशल सीबीआई कोर्ट के जज जगदीप सिंह की सिक्युरिटी में 60 जवान लगाए गए हैं। उनके घर के करीब 3 चेक पोस्ट भी लगाए गए हैं। बता दें कि जज जगदीप सिंह ने सुनारिया जेल जाकर राम रहीम को साध्वियों से रेप के मामले में 10-10 साल, यानी 20 साल की सजा सुनाई थी। राम रहीम सुनारिया जेल में सजा काट रहा है।

– सिक्युरिटी में लगाए गए 60 सीटीएफ जवानों की टीम को डीएसपी राजेश फोगाट और इंस्पेक्टर जंगशेर सिंह लीड करेंगे।
– अभी जज के काफिले में 4-5 गाड़ियां चलती हैं। सीबीआई कोर्टरूम के बाहर भी सिक्युरिटी बढ़ाई गई है। CBI के वकील एचपीएस वर्मा को भी सरकार की तरफ से सिक्युरिटी दी गई है।

डेरा प्रवक्ता के रिश्तेदार समेत 3 और गिरफ्तार
– पंचकूला के डीसीपी मनबीर सिंह के मुताबिक, शनिवार को राजस्थान के उदयपुर से प्रदीप गोयल इंसां को अरेस्ट किया गया। वो हरियाणा का ही रहने वाला है। पुलिस उसे पंचकूला ले आई है। पिंजौर से विजय को अरेस्ट किया गया। इस पर भी पंचकूला में हिंसा भड़काने का आरोप है।
– रविवार को पुलिस ने मोहाली से प्रकाश उर्फ विक्की नामक शख्स को भी अरेस्ट किया है, जो हिंसा भड़काने और देशद्रोह के मामले में आरोपी डेरे के स्पोक्सपर्सन आदित्य इंसां का साला है।

राजस्थान से बसें भरकर पंचकूला ले गया था प्रदीप
– पुलिस सोर्सेस के मुताबिक, “प्रदीप फैसले वाले दिन राजस्थान से 15-20 बसें भरकर गई पंचकूला ले गया था। उसने भीड़ इकट्ठा करने के लिए आदिवासी इलाकों को टारगेट किया और उनसे कहा कि बाबा के आश्रम में जाने के बाद हर व्यक्ति को 25 हजार रुपए दिए जाएंगे। दंगा भड़कने से दो या तीन दिन पहले यहां से बसें हरियाणा के लिए रवाना हुई थीं।’

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।