Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

खतरे में PSU, पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही है सरकार: सोनिया गांधी

संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अध्यक्ष और सांसद सोनिया गांधी ने लोकसभा में रेलवे की 6 इकाईयों के निजीकरण का मुद्दा उठाया. रायबरेली से कांग्रेस सांसद सोनिया गांधी ने कि रायबरेली की कोच फैक्ट्री का कंपनीकरण किया जा रहा है जो कि निजीकरण की शुरुआत है.सोनिया गांधी ने कहा कि यह देश की अमूल्य संपत्ति को कौड़ियों के दाम चंद निजी हाथों के हवाले करने की पहली प्रक्रिया है और इससे हजारों लोग बेरोजगार होंगे.

सोनिया गांधी ने कहा कि सरकार ने इस प्रयोग के लिए रायबरेली की मॉर्डन कोच फैक्ट्री को चुना है, इस मनमोहन सरकार ने देश के घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया था. कांग्रेस सांसद सोनिया गांधी ने कहा कि इसमें 2 हजार मजदूरों और कर्मचारियों की मेहनत लगी है, लेकिन अब उन परिवारों को भविष्य खतरे में है. सरकार क्यों ऐसी इकाई का कंपनीकरण करना चाहती है.

यूपीए की चेयरपर्सन ने कहा कि सरकार ने रेल बजट अलग से पेश करने की पुरानी परंपरा को क्यों खत्म कर दिया. सरकार को याद दिलाना चाहती हूं कि सार्वजनिक क्षेत्रों का बुनियाद मकसद लोक कल्याण है. पंडित नेहरू ने सार्वजनिक उद्योगों को आधुनिक भारत का मंदिर कहा था और आज इस तरह के मंदिर खतरे में है. आज कुछ खास पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए ऐसे उद्योगों को संकट में डाल दिया गया है. एचएएल, एमटीएनएल के साथ क्या हो रहा है यह किसी से छिपा नहीं है.

सोनिया गांधी से पहले, संसद में आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने शराब की बोतल पर महात्मा गांधी की फोटो का मुद्दा उठाया. संजय सिंह ने कहा कि विदेश मंत्रालय और प्रधानमंत्री इस मुद्दे पर संज्ञान लें. गांधीजी ने जीवनभर शराब का विरोध किया और नशाबंदी के लिए अभियान चलाया उनकी फोटो के साथ ऐसा हो रहा है.

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।