Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

नोएडा: कोरोना वार्ड में भर्ती DU की छात्रा के साथ छे’ड़छाड़, केस दर्ज

नोएडा सेक्टर 128 स्थित जेपी अस्पताल में कोरोना संक्र’मित मरीज के साथ आइसोलेशन वार्ड में एक संक्र’मित डॉक्टर द्वारा छेड़खानी का मामला सामने आया है। दरअसल, डॉक्टर भी कोरोना संक्र’मित है और उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। जिस युवती के साथ छेड़’खानी की गई है, उसकी उम्र करीब 20 वर्ष है और उसने पुलिस से इस घटना की शिका’यत की है। जिसके बाद पुलिस ने डॉक्टर के खिलाफ के’स दर्ज कर लिया है।

पीड़िता के भाई ने बताया कि 20 जुलाई को बहन को कोरोना होने के बाद आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था। जहां 23 जुलाई को उसी कमरे में एक 35 वर्षीय व्यक्ति अमृत गोयल को भर्ती किया गया, जो पेशे से डॉक्टर है।

पुलिस की शुरुआती जांच में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि अस्पताल प्रबंधन ने भी लापरवाही बख्शी है। महिला और पुरुष को एक ही आइसोलेशन वार्ड में रखना नियमों का उल्लं’घन है। बताया जा रहा है कि पी’ड़ित महिला और आरोपी पुरुष दोनों ही पिछले सप्ताह कोरोना पॉजीटिव पाए गए थे।

नोएडा के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर रणविजय सिंह ने कहा, “महिला को अस्पताल के जिस आइसोलेशन वार्ड में रखा  गया था, उसकी में एक शख्स को भी रखा गया था, जो पेशे से डॉक्टर है। दोनों कोरोना वायरस से संक्र’मित थे और एक ही वार्ड में थे।”

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।