Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

मध्यप्रदेश : गोहत्या के शक में भीड़ ने युवक को पीट-पीटकर मार डाला

भोपाल– मध्य प्रदेश के सतना में कुछ ग्रामीणों ने कथित रूप से एक शख्स को इसलिये पीट-पीटकर मार डाला, क्योंकि उनको उस पर गोकशी का शक था. इस मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस ने बताया, कैमोर की ओर से गांव लौट रहे दो ग्रामीणों ने कुछ लोगों को खदान के पास मवेशियों के साथ देखा. इन्होंने गोहत्या की सूचना गांव वालों को दी. गांव वालों ने खदान के पास मिले 45 साल रियाज खान ऊर्फ राका और 33 साल के शकील को घेरा और पीट-पीटकर मरणासन्न हालत में छोड़ गए. रात करीब 3 बजे किसी ने डायल 100 को सूचना दी. इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को लेकर मैहर अस्पताल पहुंची. अस्पताल पहुंचने से पहले रियाज की मौत हो चुकी थी.​

खबर फैलते ही पूरे इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. यह घटना इस समय सामने आई है जब गृहमंत्री राजनाथ सिंह मध्य प्रदेश के दौरे में हैं और उन्हें सतना भी जाना है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घटनास्थल के पास एक पैकेट के अंदर से भैंस का मांस हुआ है. पुलिस अधिकारी ने बताया है कि चारों आरोपियों के नाम पवन सिंह गौड़, विनय सिंह गौड़, फूल सिंह गौड़ और नारायण सिंह गौड़ हैं.

​ वहीं घटनास्थल पर कई वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मजिस्ट्रेट अरविंद तिवारी पहुंच गए हैं और भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. वहीं घायल शकील इस समय कोमा में है और इलाज जबलपुर के अस्पताल में चल रहा है.पुलिस ने उसके खिलाफ भी गोहत्या का मामला दर्ज किया है.  मृतक रियाज और शकील के परिजनों ने गोकशी से इनकार किया है. हालांकि पुलिस ने पवन सिंह गोंड की शिकायत पर मध्यप्रदेश गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम 2004 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. ​

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।