Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages
Filter by Categories
home
margin
slider
top three
top-four
travel
Uncategorized
viral
young india
कल्चर
दुनिया
देश
लीक से हटकर
विशेष
वीडियो
सटीक
सियासत
हाशिया
हेल्थ

गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान जिग्नेश मेवाणी पर 24 घंटे में चौथी बार हमला

चुनावी राज्य गुजरात से चुनाव के दौरान हिंसा की भी खबरें आ रही हैं. ऊना आंदोलन से चर्चा में आए जिग्नेश मेवाणी पर पिछले 24 घंटे में चार बार हमले की खबरें आ रही हैं.

जिग्नेश मेवाणी की सभाओं में शामिल कुछ लोगों ने बताया कि सोमवार से लेकर मंगलवार शाम तक मेवाणी के रोड शो के दौरान चौथी बार हमला हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, कुछ लोगों ने उनकी गाड़ी पर लाठी डंडे से हमला किया गया. वे लोग हाथों में भाजपा का चुनाव चिन्ह लिए थे. इस दौरान कोई हताहत तो कोई नहीं हुआ, लेकिन जिग्नेश की गाड़ी के शीशे टूट गए.

दलित समुदाय पर हो रहे अत्याचार को लेकर आंदोलन के बाद जिग्नेश मेवाणी चर्चा में आए थे. इस बार वे वडगाम सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं. जिग्नेश मेवाणी को कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने समर्थन की घोषणा की है और उनके खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं उतारा है.

इस बार गुजरात विधानसभा चुनाव में जिग्नेश मेवाणी, पिछड़े समुदाय का प्रतिनिधित्व कर रहे अल्पेश ठाकोर और पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल खुलकर भाजपा के विरोध में आ गए हैं. जिग्नेश ने दलित समुदाय से अपील की है कि वे भाजपा को हराने के लिए वोट करें. राज्य में सत्ता विरोधी लहर होने के चलते पिछले 22 सालों में पहली बार सत्तारूढ़ भाजपा को कड़ी चुनौती मिल रही है.

जिग्नेश के लिए दिल्ली से प्रचार करने गए जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष मोहित कुमार पांडेय ने बताया, ‘जिग्नेश को मिल रहे व्यापक जनसमर्थन के कारण भाजपा बौखलाई हुई है. 24 घंटे के अंदर चार बार हमला इसकी तस्दीक करता है.’

जिग्नेश मेवाणी की ओर से जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है कि गुजरात की 11, वडगाम विधानसभा से चुनाव लड़ रहे जिग्नेश मेवाणी की बढ़ती लोकप्रियता के चलते भाजपा के के लोगों ने उनके काफिले पर हमला किया.

इसका कारण बताते हुए मेवाणी की तरफ से कहा गया है, ‘विधानसभा क्षेत्र में जिग्नेश मेवानी के लिए जबरदस्त जनसमर्थन उभरा है. सोमवार के रोड शो में जिग्नेश मेवाणी के समर्थन में हज़ारों लोग उतरे थे. कई गांवों में युवा, महिलाएं, और स्थानीय लोग जिग्नेश के समर्थन में सड़क पर आए और जिग्नेश मेवाणी का स्वागत किया. मुद्दों पर आधारित राजनीति की आवाज को वडगाम विधानसभा में बुलंद करने वाले जिग्नेश के जनसमर्थन से भाजपा के लोग सकते में हैं.’

प्रेस रिलीज में कहा गया है, ‘मंगलवार को बादलपुरा में सभा करने के बाद टाकरवाड़ा गांव में उमड़े जनसैलाब के बीच में भाजपा के लोगों ने जिग्नेश मेवाणी के पोस्टर फाड़ने शुरू कर दिए. उसके तुरंत बाद जिग्नेश मेवानी के काफिले में शामिल एक गाड़ी पर हमला बोल दिया और उसके कांच फोड़ दिए.’

जिग्नेश मेवाणी ने अपने बयान में कहा है, ‘युवाओं के रोज़गार, शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, बिजली, पानी और दलितों, मुसलमानों पर हो रहे हमलों के ख़िलाफ़ मजबूत आवाज उठाने के चलते भाजपा जनता के सामने घिर गई है. सरकार के पास इन सवालों का कोई जवाब न होने के चलते भाजपा सरकार बुरी तरह बौखलाई है. सोमवार के रोड शो के दौरान भाजपा के लोगों ने सेद्रासन और सेमोदरा गांवों में हमले किए.’

जिग्नेश मेवाणी ने कहा, ‘हमने पिछले 22 साल के भाजपा सरकार के मुद्दों को उठाकर एक सीधी लड़ाई छेड़ी है. वडगाम में भी मैंने भाजपा के नकली विकास मॉडल की पोल खोल दी है. इसीलिए आज जनता के बीच जाकर अपनी बातें कहने की बजाय भाजपा मुझ पर जगह-जगह हमले करवा रही है.’