Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

नीट, जेईई समेत अन्य परीक्षाओं को टालने की मांग को लेकर NSUI कार्यकर्ताओं का भूख हड़’ताल

कोरोना काल में JEE और NEET परीक्षा के आयोजन पर छात्रों का विरोध प्र’दर्शन शुरू हो गया है। छात्र नीट और जेईई मेंस परीक्षाओं का विरोध कर परीक्षा टालने की मांग कर रहे हैं। इसी बीच नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने एक नोटिस जारी कर साफ़ कर दिया है कि परीक्षाएं तय समय पर ही होंगी। इसको लेकर नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) के कार्यकर्ता अनिश्चित कालीन भू’ख हड़’ताल पर बैठ गए हैं।

NSUI के अध्यक्ष नीरज कुंदन ने आठ अन्य सदस्यों के साथ भूख हड़’ताल शुरू की। उन्होंने कोविड-19 महामारी के दौरान विश्वविद्यालयों द्वारा परीक्षाएं नहीं आयोजित करने की भी मांग की। पिछले सप्ताह एनएसयूआई ने राष्ट्रीय योग्यता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) और संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) को टालने की मांग करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था। पत्र में अंतिम साल के विद्यार्थियों को पिछले वर्षों के प्रदर्शन के आधार पर प्रोन्नत करने की भी मांग की थी।

एनएसयूआई राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन का कहना है, वर्तमान समय में नीट, जेईई परीक्षा के लिए सही नही है। क्योकि कोरो’ना के मामले प्रतिदिन हजारों की तादाद में बढ़ रहे हैं। ऐसे में छात्रों का एक राज्य से दूसरे राज्य सफर करना मुश्किल है। उन्होंने आगे कहा, छात्रों के भविष्य को ध्यान मे रखते हुए एनएसयूआई ने आज अनिश्चि’तकाल सत्याग्रह शुरू किया है। और जब तक हमारी मांगे पूरी नही हो जाती हम पीछे नही हटेंगे।

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।