Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

गोरखपुरः भाजपा विधायक की महिला IPS के साथ सरेआम गुंडागर्दी,अधिकारी के छलके आंसू

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के राज में भाजपा नेताओं की दबंगई के आए दिन नए मामले सामने आ रहे हैं। अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र गोरखपुर में भाजपा के एक विधायक को महिला आईपीएस अधिकारी को सार्वजनिक रूप से फटकार लगाते देखा गया है। इस घटना का फुटेज इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर वायरल हो गया है।

घटना करीमनगर की है, जहां महिलाएं शराब की दुकानों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थीं। इसी बीच स्थानीय भाजपा विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल मौके पर पहुंचे और महिला आईपीएस चारू निगम को जमकर फटकार लगाई। इस घटना से आहत महिला अफसर की आंखों से आंसू छलक गए।

आईपीएस चारू निगम एंटी रोमियो दस्ते की प्रभारी के साथ ही सीओ गोरखनाथ हैं। वह जाम खुलवाने के लिए घटनास्थल पर पहुंची थीं। इस दौरान गुस्साई महिलाओं ने आईपीएस चारू निगम पर हमला भी किया, जिसमें उन्हें चोटें भी आई हैं। पुलिस ने प्रदर्शनकारी महिलाओं को हिरासत में ले लिया था। इस बीच घटनास्थल पर पहुंचे भाजपा विधायक ने ग्रामीणों के साथ दोबारा से सड़क जाम कर दिया और आईपीएस चारू निगम को खूब फटकार लगाई।

प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि चारू ने एक महिला से मारपीट की और 80 साल के एक बुजुर्ग को घसीटा। इस पर विधायक ने महिला पुलिस अधिकारी से पूछा कि उन्होंने भीड़ के साथ ऐसा बर्ताव क्यों किया जबकि सरकार का आदेश है कि घनी बस्तियों में शराब की दुकान नहीं चलेगी।

बातचीत के दौरान ही महिला अधिकारी रूमाल निकालकर आंसू पोंछने लगीं। इसी का विजुअल टीवी चैनलों पर वायरल हुआ। चारू निगम का आरोप है कि विधायक ने सार्वजनिक रूप से उनकी बेइज्जती की। गोरखनाथ क्षेत्र की क्षेत्राधिकारी चारू ने कहा, विधायक ने मेरे साथ बदसलूकी की और वह यह भूल गये कि वह एक महिला पुलिस अधिकारी से बात कर रहे हैं। फुटेज में आंसू पोछते दिखाये जाने के बारे में उन्होंने कहा कि वह रोयी नहीं बल्कि जब वरिष्ठ अधिकारी ने उनका समर्थन किया तो वह भावुक हो उठी थीं।

 

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।