Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

गहलोत का शक्ति प्रदर्शन: 100 से ज्यादा MLA जुटाकर गहलोत ने दिखाया विक्ट्री साइन

राजस्थान में सत्ता का घमा’सान जारी है। तेजी से बदलते राजनीतिक घट’नाक्रम के बीच सोमवार दोपहर तक बड़ी संख्या में विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निवास पर जुटे। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, गहलोत ने अपना समर्थन जांचने के लिए बैठक बुलाई थी, जिसमें 102 विधायक पहुंचे थे। इनमें सचिन पायलट के कुछ समर्थक भी थे। हालांकि, डिप्टी सीएम सचिन पायलट इस मीटिंग में नहीं आए।

वहीं दूसरी तरफ आयकर विभाग के 200 से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों ने दिल्ली और राजस्थान के कई जगहों पर छापेमा’री की है। यह छापेमारी अशोक गहलोत के करीबी धर्मेंद्र राठौड़ और राजीव अरोड़ा के ठिकानों पर की गई है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के पार्टनर रविकांत शर्मा ईडी के रडार पर हैं। शर्मा और वैभग गहलोत बिजनेस पार्टनर हैं। रविकांत शर्मा को ईडी ने कुछ दिन पहले ही तलब किया था। अब उनसे पूछताछ की जा रही है। हालांकि, ईडी का ये कहना है कि आयकर विभाग की रेड से उनका कोई कनेक्शन नहीं है।

सूत्रों का कहना है कि सीएम अशोक गहलोत ने पार्टी हाईकमान को सचिन पायलट से एक पद वापस लेने की मांग की है। सचिन पायलट के पास डिप्टी सीएम के साथ ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का पद है। कहा जा रहा है कि सचिन पायलट को आज प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया जाएगा और उनकी जगह रघुवीर मीणा को प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।