Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

कर्नाटक में सवर्ण की मोटर साइकिल छूने पर दलि’त युवक को नं’गा करके पी’टा

कर्नाटक के विजयपुरा में एक 32 वर्षीय दलि’त को 13 लोगों ने नं’गा करके सिर्फ इसलिए पी’टा, क्योंकि उसने क’थित तौर पर ऊंची जाति के व्यक्ति की बाइक छू दी थी। विजपुरा जिले के पुलिस अधीक्षक अनुपम अग्रवाल ने मीडिया से कहा, “पी’ड़ित दलित (काशीनाथ तलवार) की शिकायत पर हमने 13 आरो’पियों के खिलाफ मा’मला दर्ज किया है। 18 जुलाई को तालिकोटी के पास मिनाजगी गांव में हुई इस घट’ना की जांच की जा रही है।”

मा’रपी’ट की यह घट’ना राजधानी बेंगलुरू से करीब 530 किलोमीटर दूर हुई है। पी’ड़ित युवक ने इस मामले में थाने में जाकर शिकायत भी दर्ज कराई है।

एससी/एसटी ऐक्ट के तहत केस दर्ज
पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरो,’पियों के खिलाफ एससी/एसटी ऐक्ट और आईपीसी की विभिन्न धा’राओं में के’स दर्ज किया गया है। आरो’पियों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस काल में जहां लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कहा जा रहा है, वहीं दलित युवक की पिटा’ई के वीडियो में भीड़ नजर आ रही है।

बता दें कि कर्नाटक में द’लित अत्या’चार की वा’रदात पहले भी होती रही हैं। इसे इससे समझा जा सकता है कि कर्नाटक के चित्रदुर्ग से बीजेपी के एक दलि’त सांसद को एक गाँव में वहाँ के लोगों ने आने ही नहीं दिया। सांसद का नाम ए. नारायणस्वामी है।

सांसद सांसद तुमाकुरु ज़िले के पावागड़ा इलाक़े के परामलहल्ली गाँव में जा रहे थे तभी इस गाँव के पिछड़ी जा’ति के लोगों ने उन्हें गांव में आने से रोक दिया। इस गाँव में काडू गोला जनजाति के लोग रहते हैं। जब यह घट’ना हुई तो सांसद अपने साथियों के साथ गाँव में विकास कार्यों का जायजा लेने के लिए जा रहे थे।

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।