Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

त्रिपुरा में बीजेपी को शून्य से 35 सीट तक पहुंचाने वाले बिप्लब देब होंगे अगले मुख्यमंत्री, जिष्णु देव डिप्टी सीएम

त्रिपुरा के अगले मुख्यमंत्री बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बिप्लब कुमार देब होंगे। देब की लीडरशिप में बीजेपी ने राज्य में पहली बार 35 सीट जीती हैं। 2013 के चुनाव में पार्टी के पास एक भी सीट नहीं थी। अगरतला में बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टी के विधायकों की बैठक में देब के नाम पर मुहर लगाई गई। इसमें बीजेपी की ओर से केंद्रीय पर्यवेक्षक के तौर पर नितिन गडकरी मौजूद थे। उन्होंने ही मीडिया को यह जानकारी दी। उधर, बीजेपी के ही लीडर जिष्णु देव वर्मा को डिप्टी सीएम बनाया गया है।

9 मार्च को शपथ ग्रहण

– बिप्लब ने बताया कि शपथ ग्रहण समारोह 9 मार्च को सुबह 10:30 बजे होगा। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने उम्मीद जताई की प्रधानमंत्री आमंत्रण को स्वीकार करेंगे।

कौन हैं बिप्लब देब?

– 48 साल के बिप्लब कुमार देब बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष हैं। उनका जन्म उदयपुर में हुआ। वे पश्चिम त्रिपुरा की बनमालीपुर सीट विधायक हैं।

– त्रिपुरा यूनिवर्सिटी से 1999 में ग्रेजुएट किया। समाजसेवा के काम करते रहे हैं। साफ-सुथरी छवि। कोई भी क्रिमिनल केस दर्ज नहीं है। हलफनामे में अपनी कुल प्रॉपर्टी 5.85 करोड़ बताई।

– संघ से जुड़े रहे हैं। संगठन में रहकर काम किया है। बीजेपी के थिंक टैंक रहे केएन गोविंदाचार्य के साथ काम कर चुके हैं।

बिप्लव को क्यों सौंपी जा रही है जिम्मेदारी?

1) बीजेपी शून्य से 35 सीट पर पहुंची

– बीजेपी पिछले 35 साल से राज्य में चुनाव लड़ रही है। लेकिन कभी भी अपना जनाधार नहीं बना पाई।

– पार्टी 2013 के चुनाव में एक भी सीट नहीं जीत पाई थी। अब उसे 35 सीट मिली हैं।

 

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।