Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

अमेरिका में नहीं थम रहा मौ’तों का सिलसिला, एक दिन 150 से अधिक की मौ’त

कोरोना वायरस के आगे हर देश बेबस है। चाहे वो कोई छोटा देश हो या अमेरिका जैसा महाशक्ति, इस वायरस के आगे किसी का बस नहीं चल रहा है। चीन, इटली और स्पेन के बाद कोरोना ने अमेरिका में भी क’हर मचाना शुरू कर दिया है। यहां कोरोना वायरस के एक ही दिन में करीब 10,000 मामले सामने आए हैं और 150 लोगों की इस संक्र’मण से जा’न चली गई है। कोरोना वायरस ने आर्थिक महाशक्तियों की भी आर्थिक हालत पतली कर दी है।

हालांकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 12 अप्रैल यानी ईस्टर तक देश की अर्थव्यवस्था के पटरी पर आने की उम्मीद जताई है। लाखों अमेरिकियों के लॉकडाउन होने, नेशनल गार्ड और सैन्य बलों की कई राज्यों में तैनाती के बावजूद न्यूयॉर्क में ही कम से कम 53 लोगों की मौ’त हो गई और मंगलवार को कम से कम 5,000 नए मामले सामने आए। अमेरिका में सबसे ज्यादा न्यूयॉर्क में कोरोना के मामले सामने आए हैं। अकेले यहां 25 हजार से अधिक लोग इस वायरस से संक्र’मित पाए गए हैं, जबकि 210 लोगों का मौ’त हो चुकी है।

ट्रम्प ने मंगलवार को पत्रकारों से कहा कि उन्हें उम्मीद है कि करीब तीन हफ्तों यानी ईस्टर तक स्थिति सामान्य हो जाएगी। ईस्टर 12 अप्रैल को है। राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘मैं हर किसी को सामाजिक दूरी बनाने, बड़ी संख्या में एकत्रित होने से बचने, हाथ धोने और अन्य चीजों का पालन करने के लिए प्रेरित करना चाहता हूं। अंतत: हमारा लक्ष्य दिशा निर्देशों में ढील देना और देश के बड़े वर्ग के लिए चीजें सामान्य करना है।” उन्होंने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि हम ईस्टर तक यह कर सकते हैं। मुझे लगता है कि यह हमारे देश के लिए बड़ी चीज होगी और हम इसे सच्चाई में बदलने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।”

Democracia एक गैर-लाभकारी मीडिया संस्था हैं। जो पत्रकारिता को सरकार-कॉरपोरेट दबाव से आज़ाद रखने के लिए वचनबद्ध है। इसे जनमीडिया बनाने के लिए आर्थिक सहयोग करें।